BRO Full Form: BRO क्या है तथा संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी

BRO Full Form: BRO kya hai. इसका फुल फाॅम,BRO full form in hindi, Bro meaning

नमस्कार दोस्तों

हमारे देश भारत में बहुत से ऐसे संगठन है जो सरकार के साथ जुड़कर देश के विकास में अपनी अहम् भागीदारी अदा कर रहे है उन्ही संगठनो में से एक संगठन जिसका नाम है “BRO”

जिसके बारे में आज हम आपको बताएँगे की “BRO” क्या होता है? इसकी full form क्या है? इसका गठन कब कब हुआ? “BRO” की और क्या क्या full form होती है?

पूरी जानकारी जानने के लिए पोस्ट को शुरू से लेकर अंत तक पढ़े आपको complete जानकारी मिल जाएगी |

“BRO” Full Form: Bro की फुल फाॅर्म क्या है?

BRO full form in English: “Border Road Organization”

BRO full form in Hindi: अगर हिंदी की फुल फॉर्म की बात करें तो इसका मतलब होगा – “सीमा सड़क संगठन”

“BRO” का गठन कब हुआ?

इसका गठन 7 मई 1960 को हुआ था इसका मुख्य कार्यकारी अध्यक्ष “DGBR” होता है इसकी फुल फॉर्म की बात करें तो वो होंगी

“Director general border road”

DGBR ही लेफ्टिनेंट जनरल का पद संभालता है इस संगठन की अध्यक्षता रक्षा मंत्री करता है वर्तमान में इसकी अध्यक्षता राजनाथ जी कर रहे है |

वैसे तो सडक निर्माण में लगने वाली राशि का व्यय राजमार्ग मंत्रालय करता है लेकिन इसके लिए कोष की व्यस्था सरकार के वित्तीय कोष से होती है।

“BRO” क्या है

BRO Full Form के बारे मे तो आपने जान लिया चलिए अब बात करते है डिटेल मे कि यह है क्या. “BRO” भारत सरकार का एक ऐसा संगठन है जो सडक निर्माण कार्य हेतु बनाया गया है

यह संगठन मित्र पड़ोसी देशो जैसे नेपाल, भूटान, बांग्लादेश की सीमावर्ती इलाकों में सडक निर्माण का कार्यभार सभालते है यह संगठन सशस्त्र सीमा बल की भी सहायता प्रदान करती है।

क्योंकि प्रत्येक राष्ट्र के निर्माण में सड़के अहम् भूमिका अदा करती है क्योंकि सड़के हमें एक राष्ट्र से दूसरे राष्ट्र से जोड़ती है जिससे आवागमन का माध्यम सरल एवं सुगम हो जाता है।

इस संगठन का मुख्य कार्य सीमांत और व्यापित क्षेत्रो में सडक निर्माण और प्रबंधन का कार्य करना है और इनका कार्य पडोसी देशों के सीमावर्ती इलाकों में सड़क नेटवर्क की भी होती है।

यह संगठन सेना की भी बहुत सहायता प्रदान करती है क्योंकि जब कभी भी देश में युद्ध के हालात बनते है तो सेना को कम समय में युद्ध स्थल तक पहुंचाने का काम भी ये संगठन करते है

यह संगठन 18 से ज्यादा राज्य और 2 से अधिक केंद्र शसित प्रदेशो का भार संभाले हुए है यह 12, 500 मीटर स्थाई पुलों की मरमत का कार्यक्षेत्र भी संभालता है।

अन्य फुल फाॅर्म:
CNG Full Form: CNG का फुल फाॅर्म क्या है तथा संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी

“BRO” का headquarter

“Border road organization” का मुख्यालय रिंग रोड दिल्ली में है

यहाँ का पिनकोड -110010

यह संगठन काफ़ी पुराना है और इसने बहुत से महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट पर कार्य किया है और बहुत से अवाॅर्ड भी जीते है ।

“BRO” के उद्देश्य क्या है

“BRO” ऐसा संगठन है जिसने सीमित तकनीकि साधनों के होने के बावजूद भी दुर्गम इलाकों में कार्यों का निर्माण करके बहादुरी का परिचय दिया है.

ख़राब मौसम में या आंधी तूफान में इस संगठन के पैर कभी डगमगाते नही है तथा कठिन परिस्थितियों के चलते भी यह लगातार समय पर कार्य पूरा करती है।

“BRO” के उदेश्य निम्न है।

(1) वर्तमान तकनिकी का उपयोग करके कार्य को सरलता से संपन्न करना इसका मुख्य उदेश्य है।

(2) सुचना प्रौद्योगिकी और यातायात से सम्बंधित जानकारी द्वारा कार्य क्षेत्र को अधिक से अधिक प्रसारित करना।

(3) कार्य को उच्च कुशलता और शीघ्र करने की प्रतिस्पर्धा के चलते यह कार्यों को मजबूती और सुरक्षा का भरोसा प्रदान करता है।

(4) सीमावर्ती राज्यों को आर्थिक और सामाजिक तोर पर सहायता प्रदान करना।

(5) युद्ध के समय सरकार द्वारा दिए गए कार्यों को बिना किसी प्रदिबंध के पूरा करना और सेना को अतिरिक्त साहयता प्रदान करना है।

“BRO” का प्रमुख कार्य क्या क्या है ?

BRO full form के बारे मे तो हमने जान लिया अब इसके प्रमुख कार्य भी जान लेते हैं. Border Road Organization का कार्य होता है सीमावर्ती इलाकों में सडको के निर्माण कार्यों को करना

लेकिन इसके साथ साथ इसके अन्य भी बहुत से कार्य होते है जो निम्न है तो चलिए एक एक करके देख लेते है।

(1) केंद्र सरकार के मंत्रालय दवारा दिए गए कार्य को निष्पादित करना।

(2) रक्षा आवश्कताओ के हिसाब से सीमावर्ती क्षेत्रो की रखरखाव का कार्यभार भी संभालना होता है।

(3) सडको के निर्माण के आलावा सीमावर्ती इलाकों में हवाई और पुलों के निर्माण कार्य को भी करना होता है।

(4) युद्ध के समय सेना की मदद का कार्यभार भी संभालना होता है और कम समय में सेना को गंतव्य तक पहुंचाया जाता है ये सभी जिम्मेदारी इसी संगठन की होती है।

(5) बारिश की वजह से सीमावर्ती इलाके के सरकारी परिवहन को नुकशान होता है तो उसको मरमत का कार्य भी यही संगठन करता है।

“BRO” के द्वारा किये गए कुछ महत्वपूर्ण कार्य

“BRO” ने समय समय पर बहुत अच्छे कार्य किये है जिसकी वजह से इसको अच्छे काम के लिए बहुत अवार्ड भी दिए गए इसके द्वारा कुछ किये गए महत्वपूर्ण कार्यों की सूची नीचे दी गई है।

(1) इन्होने 3500 से भी अधिक परमानेंट ब्रिज़ो का निर्माण किया जिसकी कुल लम्बाई 40000 मीटर से भी अधिक की है।

(2) 2015 की रिपोर्ट की माने तो B.R.O ने लगभग 50, 000 किलोमीटर से अधिक है।

(3)इन्होने अलग अलग valuable लोकेशन पर airfields का निर्माण किया है।

(4)चाहे भारत – चाइना सीमा हो या अन्य पडोसी देशों की सड़को के निर्माण कार्य में अपनी अहम् भूमिका निभाई है।

“BRO” के नियम और काम करने का तरीका बहुत ही स्ट्रिक्ट है क्योंकि इसमें नियमों में सख़्ती का मुख्य कारण यह है की सेना को कभी भी इनकी आवश्यकता पड़ सकती है

और राष्ट्रीय संस्था में भारत का वर्चस्व बनाये रखने की जिम्मेदारी भी इनकी ही होती है।

“BRO” का हेल्पलाइन नंबर

बहुत से लोग होते है जिन्हे BRO का हेल्पलाइन नंबर नहीं पता है लेकिन आज हम आपको इस लेख के माध्यम से इसके हेडक्वार्टर का हेल्पलाइन नंबर प्रोवाइड करा रहे है

दूरभाष नम्बर – 011 – 25690744

फैक्स नंबर – 011 – 25684632

BRO के अन्य फुल फाॅम

BRO – Brother

BRO – Basic Rights Oregon

BRO – Brownsville/South Padre Island International Airport

Conclusion

“Bro” एक बहुत बढ़िया संगठन है यह हम सब मानते है लेकिन इसको बढ़िया बनाने के पीछे किसका हाथ है तो इसको बढ़िया बनाने के पीछे इसमें काम करने वाले कर्मचारियों का है जो पूरी निष्ठा और तन मन से कार्य करते है।

हमें यह नहीं भूलना चाहिए की दुर्गम इलाकों में काम करते हुए पता नहीं कितने लोगो ने अपने प्राणो को दावों पर लगाया है।

ये लोग अपनी जान को जोखिम में डालकर दुर्गम क्षेत्रो में कार्य करते है मौत के बाजीगर कहना इनके लिए उचित होगा

अपने देश हित के लिए ये लोग अपने प्राणो की भी चिंता नही करते है ऐसे लोगो को मेरा सलाम है “जो देश के काम ना आये वो बेकार जवानी है।”

आशा करता हू कि BRO Full Form लेख के माध्यम से आप पूरी जानकारी समझ पाए होंगे क्योंकि हमने इस लेख में एक भी जानकारी अधूरी नहीं छोड़ी है।

“धन्यवाद “

 

FAQ: BRO से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

Q.1 “BRO” का 2021 में कौन सा गठन मनाया गया था?

Ans. हम जानते है की इसका गठन 1960 में हुआ था और वर्तमान में 2021 चल रही है यानि कि इस बार 61 वां गठन मनाया गया था।

Q.2 “BRO” की स्थापना किसने की थी?

Ans. इसकी स्थापना पंडित जवाहर लाल नेहरू की अध्यक्षता में 1960 में की गई थी।

Q.3 “BRO” सरकारी संगठन है या प्राइवेट?

Ans. आपकी जानकारी के लिए बता दू तो bro एक सरकारी संगठन है इसकी अध्यक्षता रक्षामंत्री करता है और इसको वित्तमंत्रालय द्वारा लागत राशि प्रदान की जाती है।

Q.4 “BRO” कैसे ज्वाइन कर सकते है?

Ans. bro एक प्रातिष्ठित संगठन है यदि आप इसमें वर्क करना चाहते हो तो बता दू हर साल इसमें “c” ग्रुप की वैकन्सी निकलती रहती है वो भी अलग अलग पदों पर. यदि आप 10वी या 12वी या I.T.I की डिग्री रखते हो तो आप एलिजिबल हो और आप 50 रुपया देकर फॉर्म भर सकते हो।

इसकी आयु सीमा की बात करू तो आपकी उम्र 18-25 के बीच होनी चाहिए और आप भारत के ही नागरिक होने चाहिए।

यदि आप अधिकारी पद पर भर्ती होना चाहते है तो आपको “UPSC” द्वारा आयोजित “इंडियन इंजिनियरींग सर्विसेज ” का एग्जाम पास करना होगा उसके बाद ही आप एलिजिबल हो पाओगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *