PPT Full Form in Hindi: PPT का फुल फाॅर्म तथा संबंधित जानकारी

PPT Full form: PPT क्या है, PPT का फुल फाॅर्म क्या है, PPT Full form in Hindi,

हेलो दोस्तों, आज के इस पोस्ट में हम आपको जानकारी देंगे कि,  PPT का फुल फाॅर्म क्या होता है? (PPT full form in Hindi) तथा इससे संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी. तो चलिए शुरु करते है…

PPT Full Form

दोस्तों PPT (पीपीटी) का फुल फॉर्म Powerpoint Presentation होता है जिसमें P का अर्थ Powerpoint और PT का अर्थ Presentation होता है। इसे (ppt) हिंदी में हम पॉवर प्वाइंट प्रदर्शन अर्थात प्रस्तुतीकरण भी कह सकते हैं।

PPT full form in English: Powerpoint Presentation

PPT full form in Hindi: पाॅवर प्वाइंट प्रदर्शन

अब आप यह कहेंगे कि Powerpoint Presentation kya hai? और इसके और क्या-क्या उपयोग है। तो आइए अब आपको इसके बारे में कुछ महत्त्वपूर्ण जानकरियां दे देते हैं।

PPT क्या है

दोस्तों, जैसा कि आप जानते है कि PPT को Powerpoint Presentation कहते हैं. यह माइक्रोसाॅफ्ट का एक फाइन एक्सटेंशन है जो प्रजेंटेशन बनाने या स्लाइड बनाने के काम आता है।

यह माइक्रोसाॅफ्ट आफिस  सूट (एप्लिकेशन्स) के अंतर्गत आता है।

एजुकेशन, आर्गेनाइजेशन, बिजनेस मे मैटर को प्रजेंट करने या समझाने के लिए इसे काफी प्रयोग किया जाता है जहां छात्र या डिपार्टमेंट के सदस्य को उसे समझने मे आसानी होती है।

इसके अतरिक्त बिजनेस के ग्रोथ को समझाने तथा कौन कौन सी उपलब्धिया प्राप्त की गयी, किस वजह से उसमे गिरावट हुई. इसके लिए कंपनियां अक्सर इसे प्रजेंटेशन के माध्यम से सदस्यो के साथ डिस्कशन करती रहती है।

जिसे प्रजेंटेशन से आसानी से समझा जा सकता है क्योंकि ये काफी इंटरेक्टिव होता है तथा समझने के लिए आवश्यक चित्र, ग्राफ, साउंड को आसानी से शामिल किया जा सकता है।

Read This Also:

CV Full Form: CV क्या होता है और पूरी जानकारी

CRM Full Form: CRM क्या है तथा किसलिए इस्तेमाल होता है

PPT का क्या उपयोग है

दोस्तों powerpoint presentation का उपयोग लगभग उन सभी स्थानों अथवा कार्यों के लिए किया जाता है जहां कि लोगों को कुछ समझाना होता है

इसके (ppt के) माध्यम से schools, Colleges, companies, आदि जगहों पर presentation किए जाते हैं। ताकि सामने वाले व्यक्ति को कोई भी बात आसानी से समझ में आ सके।

Powerpoint Presentation से सभी प्रेजेंटेशन इसलिए भी दिए जाते हैं क्योंकि इसमें आप images, text, sound, आदि के माध्यम से सामने बैठे हुए व्यक्ति को अपनी बात आसानी से समझा सकते हैं।

PPT को उपयोग करने के फायदे

दोस्तों अब हम इस paragraph में आपको बताएंगे की powerpoint presentation को उपयोग करने के फायदे क्या हैं?

● Powerpoint का एक converged यूजर इंटरफेस है।

● PPT में फाइलों के करेप्टेड होने की संभावना कम होती है।

● Powerpoint presentation की मदद से यूजर आसान और कठिन प्रस्तुतियों की जानकारी को आसानी से बता सकता हैं।

● Powerpoint presentation को आप daily purpose, Educational Purpose, Commercial Purposes, आदि के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

● Microsoft के अधिग्रहण वाली windows के अलावा ppt अन्य प्लेटफार्मों; जैसे कि Apple, Android, iOS और Web access के लिए भी उपलब्ध है।

PPT का इतिहास

दोस्तो आइए एक नजर डालते हैं इसके इतिहास पर कि किसने इसे बनाया तथा इसकी शुरुआत कैसे हुई।

● Powerpoint को सबसे पहले Forethought, Inc. नाम की एक कंपनी द्वारा बनाया गया था। जोकि Robert Gaskins और Dennis Austin द्वारा बनाया गया था।

● Powerpoint Presentation को 20 अप्रैल 1987 को लॉन्च किया गया था।

● अपने पहले संस्करण में PPT केवल Mac कंप्यूटर के लिए ही जारी किया गया था।

● लेकिन लगभग 03 microsoft नामक कम्पनी ने इसका अधिग्रहण कर लिया। यह अधिग्रहण लगभग 14 मिलियन डॉलर में संपन्न हुआ था।

● Powerpoint Presentation का अधिग्रहण Microsoft का पहला सबसे ज्यादा महत्त्वपूर्ण अधिग्रहण था।

● जब microsoft windows बाजार में नहीं आई थी तो microsoft का powerpoint presentation के फील्ड मे हिस्सेदारी बहुत कम थी।

● लेकिन माइक्रोसाॅफ्ट के windows तथा इसके आफिस की वृद्धि के साथ साथ PPT के क्षेत्र मे हिस्सेदारी भी बढ़ने लगी।

PPT के अन्य फुल फॉर्म

PPT के फुल फाॅम को तो आपने जान लिया लेकिन इसके अतिरिक्त इसके कुछ और फुल फाॅम है जिसे हम नीचे लिस्ट कर रहे हैं

तो आइए जानते हैं।

● Project Progress Tracking

● Plunge Protection Team

● Putnam Premier Income Trust

● Printing and Packaging Technologies, Inc.

● Planning and Placement Team

● Processing Program Table

● Probabilistic Polynomial Time

● Program Performance Test

● Production Prove-out Test

● Program Planning Team

● Pulsed Plasma Thruster

दोस्तों अब हम बात करेंगे, की PPT का फुल फॉर्म अलग अलग क्षेत्र में क्या है और हम इसके बारे में आपको सम्पूर्ण जानकारी देंगे।

PPT full form in Biology and medical

दोस्तों, आइए जानते हैं कि Biology यानी कि जीव विज्ञान में ppt ka full form kya hota hai?

● Pulsed Plasma Thruster

PPT full form in Chemistry

आइए अब जानते हैं कि chemistry अर्थात रसायन विज्ञान में ppt ka full form kya hota hai?

● Part Per Trillion

PPT full form in School (Education)

स्कूल, विद्यालय और हमारी एजुकेशन के क्षेत्र में PPT का फुल फॉर्म

● Powerpoint Presentation

● Pulsed Plasma Thruster

● Part Per Trillion

PPT full form in Business and Economics

Business और Economics के क्षेत्र में PPT का फुल फॉर्म

● Powerpoint Presentation

PPT का निर्माण कैसे करें?

दोस्तों अब हम जानेंगे कि आप पीपीटी किस प्रकार से बना सकते हैं?

● सबसे पहले आपको अपने कम्प्यूटर में Microsoft Powerpoint को खोलना होगा।

● इसके बाद में अब आपको ऊपर की ओर फाइल पर जाना होगा। यहाँ पर आपको New (नया) पर क्लिक करना होगा।अब आपके सामने एक New Presentation (नया प्रदर्शन) लिखा हुआ होगा यह आपकी स्क्रीन के दाईं ओर होगा।

● अब आपको Design Template को सेलेक्ट करना होगा। यहाँ पर आपको From डिजाइन Template पर क्लिक करना होगा। आप आपको अपनी इच्छा के अनुसार किसी एक डिज़ाइन को चुनना होगा।

● अब आपको अपने पसंद किए गए Template पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको New Presentation Dialog Box में Color Schemes पर क्लिक करना होगा। आप अपनी इच्छा के अनुसार रंग का चुनाव कर सकते है।

● इसके बाद अब Slide Layout को बदलना होगा। यह आपको स्क्रीन के दाईं ओर Slide Layout पर दिखाई देगा आपको इस पर क्लिक करना है। आप लेबल पर क्लिक करके एक डिजाइन का चुनाव कर सकते है।

● अब आपको टेक्स्ट को ऐड करना है इसके लिए आपको यहाँ पर Click To Add Title पर क्लिक करना है। इसके बाद आपको टेक्स्ट को ऐड करना है।

● अब आपको Click To Add Content पर क्लिक करना है। इस पर क्लिक करते ही आप किसी भी picture को ऐड कर सकते है। यहाँ पर आपको 06 icon वाला एक छोटा बॉक्स दिहाई देगा यहाँ पर कई icon दिखाई देंगे आपको अपनी इच्छा के अनुसार icon पर क्लिक करना होगा।

● अब आपके सामने एक नयी Window खुल जाएगी इसके द्वारा आप किसी भी पिक्चर को ब्राउज़ कर सकते हैं। ब्राउज़ करने के बाद पिक्चर पर क्लिक करे इसके बाद आपको इन्सर्ट पर क्लिक करना है।

● अब आप को Picture पर क्लिक करना है यहाँ पर आप अपनी पिक्चर का आकार बदल सकते है। Picture के पास में छोटे- छोटे Box दिखाई देंगे यहाँ पर आपको Click करना होगा। आप अपनी इच्छा के अनुसार पिक्चर को ड्रैग कर सकते है।

● Powerpoint Presentation बनाने के बाद आपको अपनी फाइल को Save करना होगा। इसके लिए आपको Save या Save as पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार से आप Presentation को सेव कर सकते हैं।

Conclusion

आज के लेख में हमने PPT full form और इससे संबंधित जानकारी जैसे कि यह क्या है, इसे कैसे उपयोग मे लाते हैं, को जाना। इसके अलावा PPT का इतिहास और इसको किस प्रकार बनाया जा सकता है इसे भी कवर किया है।

हम उम्मीद करते है आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आई होगी। यदि पसंद आई हो तो कृपया इसे जरुर शेयर करें. आपके एक शेयर से हमे मोटिवेशन मिलता है।

धन्यवाद!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *